दिल्लीवालों को हृदय संबंधित समस्याओं से निजात दिलाने के लिए हार्ट अटैक एप लॉन्च किया.

नई दिल्ली, 09 सितंबर 2017: कार्डियोलॉजिकल सोसाइटी ऑफ इंडिया (दिल्ली) ने दिल्लीवालों के लिए अपना पहला ऐप "हार्ट अटैक" लॉन्च किया है, जो की इस बीमारी से पीड़ित लोगों को सही जानकारी प्रदान करेगा और साथ ही आपातकालीन स्थिति में इस समस्या से उभरने में भी मददगार साबित होगा। इस ऐप को इस्तेमाल करने वाला व्यक्ति आपातकालीन समय में अपने निकटतम अस्पतालों / चिकित्सक हृदय रोग विशेषज्ञों की जानकारी पा सकता है और साथ ही अपने लिए एक अच्छा अस्पताल भी चुन सकता है। यह ऐप आपको वर्तमान ट्रैफिक स्थिति के आधार पर वास्तविक यात्रा समय बताएगा। इसका लांच

हार्ट केयर ट्रीटमेंट के लिए सुनियोजित और सक्रिय तरीके से बुनियादी ढांचा बनाने के लिए बुलाई गई कार्डियोलॉजिकल सोसाइटी द्वारा आयोजित एक पूर्ण दिवस संगोष्ठी के दौरान हुआ था । इसमे एम खलीलुआह, डॉ अशोक सेठ, हर्षवर्धन, शांतनु गुहा, विमल मेहता, थॉमस अलेक्जेंडर, रमेश बाबू , आरएस रामकृष्णन जैसे देश भर में प्रसिद्ध हृदय रोग विशेषज्ञों ने भाग लिया।

सेमिनार मिड-टर्म दिल्ली सीएसआई 2017 के बारे में, एम्स से प्रोफेसर और कार्डियोलॉजिकल सोसाइटी ऑफ दिल्ली के सेक्रेटरी सन्दीप मिश्रा और दिल्ली शाखा के कार्डोलॉजी सोसायटी ऑफ दिल्ली के सेक्रेटरी ने कहा, "हार्ट अटैक और सेरेब्रोवास्कुलर रोग अब भारत में # 1 किलर हैं। हार्ट अटैक उच्च मृत्यु दर में शामिल हो चूका है जो की बहुत गंभीरता का विषय है। दिल के दौरे के दौरान कोरोनरी केयर यूनिटों और एंजियोप्लास्टी की स्थापना में मदद मिली है लेकिन यह महसूस किया गया है कि जब अधिकतम व्यवस्थित, सामान्य चिकित्सक, कुशल एम्बुलेंस सेवा और उन्नत हृदय केंद्र से व्यवस्थित, संगठित नेटवर्क होता है जो एंजियोप्लास्टी या दवा आधारित ( थ्रोम्बोलिसिस) अवरुद्ध धमनी का उद्घाटन! दिल का दौरा पड़ने वाले मामलों में यह नेटवर्क विशेष रूप से लाभकारी है इसके चलते दिल का दौरा पड़ने वाला व्यक्ति सही समय पर रोग हृदय केंद्र तक पहुंच सकता है जहां एंजियोप्लास्टी / थ्रोम्बोलिसिस की सुविधाएं मिलेंगी और अधिक तेजी से रोगी के हृदय की मांसपेशियों को स्थायी क्षति से बचाया जा सकता है! "

दिल्ली सीएसआई के अध्यक्ष डॉ हर्षवर्धन ने कहा, "इसके अलावा, दिल के दौरे वाले मरीजों की सहायता के लिए सीएसआई ने पहली बार" हार्ट अटैक ऐप "लॉन्च किया है। इसके अलावा दिल्ली सीएसआई एक हार्ट अटैक रजिस्ट्री भी लॉन्च किया जायेगा जिसमे यात्रा का समय और सुधार के तरीके बताये जाएंगे।