Daily Archive: June 18, 2017

Early Eid in Pakistan? Has “mauka” arrived for our neighbours to finally burst those crackers ?

Ashish Kedia

In ongoing finale of Champions Trophy, India’s current score is nothing less than a big disappointment to all cricketing fans of India.

Scoring seventy two with six wickets gone and chasing a huge target, India doesn’t looks like any favourite today.

Maybe today is the mauka-mauka that our neighbours were waiting for since long.

Let’s still wait with crossed fingers till the last boll is bowled or as in present scenario last wicket is gone!

Industrialist Aditya Ghidyal raises demand for affordable education to labour class during Dr. Mahesh Sharma’s Noida Dialogue

Ashish Kedia

Representing Industrialist fraternity of Greater Noida acclaimed social crusader Aditya Ghidyal today asked for setting up of a dedicated school for children of Labour class who couldn’t ask of now afford education in high-fee schools of Greater Noida

Aditya Ghidyal also elebaorated a well-laid plan for the implementation of the same and said," Authority should allocate the land to labour department who should take care of the school’s maintenance. The development cost can be pooled in from CSR fund of large number of industries situated in the region".

Union Minister Mahesh Sharma appreciated the suggestion and said necessary steps must be taken to implement this goodwill suggestion on the ground.

मुलायम ने NDA के राष्ट्रपति उम्मीदवार का समर ्थन करने का ऐलान किया ।

मुलायम ने NDA के राष्ट्रपति उम्मीदवार का समर्थन करने का ऐलान किया ।

नई दिल्ली : राष्ट्रपति चुनाव को लेकर सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव द्वारा किए गए ऐलान के बाद समाजवादी पार्टी में फिर से कलह मचने की आशंका बढ़ गई है। यूपी के पूर्व सीएम और समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव को दरकिनार कर मुलायम सिंह यादव ने ऐलान किया कि समाजवादी पार्टी राष्ट्रपति चुनाव में एनडीए के उम्मीदवार को समर्थन देगी। हालांकि, मुलायम ने इसके साथ एक शर्त भी जोड़ी है कि उम्मीदवार सभी द्वारा स्वीकार्य व कट्टर भगवा चेहरा नहीं होना चाहिए। गृह मंत्री राजनाथ सिंह और सूचना एवं प्रसारण मंत्री वेंकैया नायडू ने शुक्रवार को इस मसले पर मुलायम सिंह यादव से मुलाकात कर बातचीत की थी। भाजपा अध्यक्ष अमित शाह द्वारा गठित पैनल के सदस्य विभिन्न राजनीतिक दलों के नेताओं से मुलाकात करके राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार पर एक राय बनाने की कोशिश कर रहे हैं।
सूत्रों के मुताबिक, मुलायम ने कांग्रेस को लेकर अपने संशय के बारे में भाजपा नेताओं को बताया। साथ ही पार्टी के मामलों को हैंडल करने के अपने बेटे अखिलेश के तौर-तरीकों पर भी आपत्ति जताई। सूत्रों ने दावा किया कि भाजपा नेता आश्वस्त हैं कि राष्ट्रपति चुनाव में समाजवादी पार्टी का अधिकतर वोट उनके पाले में ही जाएगा। मुलायम का एनडीए कैंडिडेट को समर्थन देने का ताजा रुख कांग्रेस के नेतृत्व वाले विपक्षी धड़े के लिए बड़ा झटका साबित हो सकता है। दरअसल, सभी बड़े विपक्ष दल एकजुट होकर राष्ट्रपति चुनाव में भाजपा को कड़ी सियासी टक्कर देने की तैयारी कर रहे हैं। सूत्रों से जानकारी मिली है कि भाजपा नेताओं से मुलाकात में मुलायम ने अपनी उस पहल का जिक्र किया, जिसके फलीभूत होने के बाद एपीजे अब्दुल कलाम को एनडीए की ओर से राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार बनाया गया था। वहीं, सूत्रों का यह भी दावा है कि राष्ट्रपति चुनाव में अखिलेश यादव गैर एनडीए धड़े के साथ ही खड़े होंगे और किसी भी हालत में कांग्रेस की अगुआई वाले फ्रंट के खिलाफ नहीं जाएंगे।